Looking For Anything Specific?

best friend ke liye shayari in Hindi

best friend ke liye shayari | बेस्ट फ्रेंड के लिए शायरी हिंदी में

best friend ke liye shayari | बेस्ट फ्रेंड के लिए शायरी हिंदी में

वो अच्छा है तो अच्छा है, वो बुरा है तो भी अच्छा है,
दोस्ती के मिजाज़ में, यारों के ऐब नहीं देखे जाते
_______________________________________________

अपनी तो यही पहचान है,
हंसता चेहरा शराबी आंखें
नवाबी शान और, दोस्तों के लिए जान!!

Apni to yehi pehchan ha,
hasta chahra-sarabi ankhon
nawabi saan aur, dosto ke liye jan
_______________________________________________

ए दोस्त हम हमेशा तुम्हे दिल से याद किया करते हैं,
रहो हमेशा सलामत तुम बस यही ख़ुदा से फ़रियाद किया करते हैं।

a dost hum hamesha tumhe dil se yaad kiya karte ha,
rhe hamesha salamat tum, baas ahi khuda se fariyaad kiya karte ha.
_______________________________________________

Dil Ke Sabhi Halaat Mujhe Keh lene Do,
Behte Hai Ashq To Inhe Behne Do,
Bewafai Shamil Na Karo Dosti Ki Raho Mein,
Kam Se Kam Dosti Ko To Dosti hi Rehne Do.
_______________________________________________

Ehsaan dosto pe kabhi jatane nahi hote,
liye hai jo karz dosti mein chukane nahi hote,
bas salamat rahe yuhi ye pyari si dosti hamari,
ye wo riste hai jo kabhi anjane mein nahi hote.
_______________________________________________

Na jarurat hai chand sitaro ki,
Na jarurat hai faaltu yaaron ki,
Bas ek dost hona chaiye aap jaisa,
Jo waatt laga de hazaaron ki.
_______________________________________________

ना तुम दूर जाना ना हम दूर जायेंगे,
अपने-अपने हिस्से की दोस्ती निभाएंगे।

Na tum dur jana, na hum dur jayenge,
apne-apne hisse ki dosti nibhayenge
_______________________________________________
एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब,
वरना पता तो हमें भी है की मरना अकेले ही है।

ek chahat hoti ha dosti ke sath jine ki janab,
warna pata to hume bhi ha ki marna akele hi ha.
_______________________________________________

जिंदगी में कुछ दोस्त अपने बन जाते हैं, कुछ दिल में तो कुछ आँखों में बस जाते हैं, कुछ दोस्त धीरे से अलग भी हो जाते हैं, पर हम जो हैं सबको दिल से चाहते हैं।
_______________________________________________

रिश्ते तो बहुत निभाते हैं हम, लेकिन दोस्ती में रस्म निभाए जाते हैं, जब हार कर थक जाते हैं हम, तो बस दोस्त को ही बुलाते हैं हम।
_______________________________________________

दोस्ती छाओं देने वाली एक पेड़ होती है, दुखी मन को देने वाली दवा होती है, कैसे छोड़ सकते हैं तेरी दोस्ती, दोस्ती के बिना हर शाम अधूरी होती है।



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ