Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

gaali Wali shayari - Dirty Shayari - Nonvej Shayari - गली शायरी

Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Hello दोस्तों, अगर आप  Gandi Gaali Waali Dirty Shayari ढूंढ़ रहे है तो आप बिल्क़ुल सही जगह पर आए है । हमारी इस पोस्ट में आपको डर्टी शायरी का पूरा का पूरा नया कलेक्शन मिलेगा। जिसे पढ़कर मूद् आप सबका पूरा का पूरा वो वाला मतलब नॉनवेज हो जाएगा । लेकर आए है, तो दोस्तों थोड़े से एंटीक बनो और और बाकी के रोमांटिक बनो और आनंद लो हमारी gandi hindi Waali Shayari का। 

Andhekhe dhaage se bandh gaya koi
Main so rahi thi bina kapdo ke meri maar g@nd gaya koi
अनदेखे धागे से बांध गया कोई
मैं सोई थी बिना कपड़ो के मेरी मार g@nd gaya koi

Karke Tum Mujhe Mujpar Ek Meharbaani Karna

Meri Chuutt Ko Rakhna Naye Jisi Kabhi Na Purani Karna

करके तुम मुझे मुझ पर एक मेहरबानी करना

मेरी चुत को रखना नये जैसी कभी ना पुरानी करना


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Chandni Raat Mein Khule Aasmaan Ke Neeche Bin Kapdo Ke Gora Badan Uska Chamak Raha Tha

Mujhe Pahad Par Chadhne Ki Juldi thi Main Gufa Mein Uski Dheere Dhree Kadam Rakh Raha Tha


 रात में खुले आसमान के नीचे बिन कपड़ों के उसका गोरा बदन चमक रहा था 

मुझे पहाड़ पर चढ़ने की जल्दी थी मैं गुफा में उसकी धीरे-धीरे कदम रख रहा था


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Na Aane Doon Ghar Mein Kisi Ko Aur Chod Ke Jaaun Tujhe Kahi Na Main

Shaadi Karne Ke Baad Tujhe Bin Kapdo Ke Rakhu Pure Ek Mahina Main

ना आने दूँ घर में किसी को और छोड़ कर जाऊं तुझे कहीं ना मैं

 करने के बाद शादी तुझे बिन कपड़ों के रखू पूरा एक महीना मैं


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Jaise Bhare Huye Gilaas Ho Aam Ke Juice Ke

Maje Aa Gaye Mujhe Honth Uske Chus Ke

जैसे भरे हुए गिलास हो आम के जूस के 

मजे आ गए मुझे होंठ उसके चूस के 

Maar Maar Ke Teri Main Puri Baja Dunga

Tujhe Tere Pati Se duguna Maja dunga

मार मार के मैं तेरी पूरी सुजा दूँगा

तुझे तेरे पति से भी दुगुना मैं मज़ा दूँगा


Khus Rehti Hai Tab Jab Tere L**d ke paas Rehti Hai

Marwane Se Pahle Kehti Hai Chut Meri Udaas Rehti hai

खुश रहती है तब जब तेरे लंड के पास रहती है

मरवाने से पहले कहती है चुत मेरी उदास रहती है


Uski Jannat Ka Paani Bhi Bada Meetha Tha

Mujhe Pyaas Jab Jab Lagti Thi Main Wahi Peeta Tha

उसकी जन्नत का पानी भी बड़ा मीठा था

मुझे प्यास जब जब लगती थी मै वही पीता था


Kapde Toh Utar Diye Wo Magar Fir Bhi Katra Rahi Thi

Use Apne Dewar Se Marwane Mein Sharam Aa Rahi Thi

कपड़े तो उतार दिये वो मगर फिर वही कतरा रही थी

उसे अपने देवर से मरवाने में शर्म आ रही थी

Gandi Waali Gali Wali Nonvej Shayari

Huy Friends, यहाँँ पर आपको बिल्कुल लेटेस्ट और Copywright फ्री gandi Gali Wali Shayari पढ़ने को मिलेगी। जिन्हे पढ़ने के बाद आपको मजा आ जायेगा।

Sau Ghode Jitne Maje Maine Akele Diye Use

Pyaas Fir Bhi Na Bujhi Toh Laa Mote Mote Kele Diye Use

सौ घोड़े जितने मजे मैने अकेले दिये उसे

प्यास उसकी फिर भी ना बुझी तो ला मोटे मोटे केले दिये उसे


Chike Nikal Rahi Thi Joro Se Saali Ke Muh Mein Kapda Thus Diya

Dhai Ghante Marwane Ke Baad Kehti Hai Tumne Kar Mujhe Khush Diya

चीखे निकल रही थी जोरो से साली के मुह में कपड़ा ठूस दिया

वो ढाई घंटे मरवाने के बाद कहे तुमने कर मुझे खुश दिया


Main Uske Upar Raat Bhar Wo Mere Neeche Thi

Ch**t Uski Padi Mere L**d Ke Peeche Thi

मै उसके ऊपर रातभर वो मेरे नीचे थी

चूत उसकी पड़ी मेरे लंड के पीछे थी

Gali Wali Shayari For Her And Bhabhi

Ye Mat Puche Tha Kyun Mera

Bas Uski Tango Ke Neeche Tha Muh Mera

मत पूछो था क्यू मेरा 

बस उसकी टांगो के नीचे था मुह मेरा


Bhabhi Ke The Chote Maine Dab Daba Ke Mote Kiye Hai

Paani Girta Tha Din Raat Bhabhi Ki Jannat Se Bhar Bhar Maine lote Piye Hai

भाभी के थे छोटे मैने दबा दबा के मोटे किये है

पानी गिरता था दिन रात भाभी की जन्नत से मैन भर भर लौटे पीये है


2 Bajte Hi Raat Jo Kamre Mein Aati Mere Bhabhi Thi

Bhabhi Ko Khush Karne Ki Sirf Mere Paas Chabi Thi

2 बजते हि रात को कमरे मे आती मेरे भाभी थी

भाभी को खुश करने की सिर्फ मेरे पास चाबी थी

Latest Gali Wali Shayari Jabardast

Jitna Maja Upar Hai Use Jyada Maja Neeche Hai

Itna Kahkar Wo Seedha Nada Apana Kheenche Hai

जितना मजा उपर है उससे ज्यादा मजा नीचे है

इतना कहकर वो सीधा नाड़ा अपना खींचे है


Soye Sang Kisi Ke Bhi Uski Pyaas Toh Main Hi Bujhata Hoon

Puri raat Laga Rehta Hoon Bhabhi Ki Maar Maar Ke Sujata Hoon

सोये संग किसी के भी उसकी प्यास तोह मैन हि बुझाता हूँ

पुरी रात लगा रहता हूँ भाभी की मार मार के सुजाता हूँ


Roti Bele Kam Belan Bhabhi Apne Neeche Daale Jyada

Naa Jaane Kya Chahe Bhabhi Bhabhi Ka Kya Hai irada

रोटी बेले कम बेलन भाभी अपने नीचे डाले ज्यादा

ना जाने क्या चाहे भाभी भाभी का क्या है इरादा

Gali Wali Shayari For Bhabhi

Peeta Sirf Main Hoon Baaki Ko Tarasti Hai

Chut Saali Bhabhi Ki Amrit Barsati Hai

पीता सिर्फ मैं हूँ बाकी को तरसाती है

चूत साली भाभी की अमृत बरसाती है


Daba Daba Ke Maine Rasgulle Bhabhi Ke Mote Kar Diye

Nikla Jo Dudh Unse Maine Laute Bhar Liye

दबा दबा के मैने रसगुले भाभी के मोटे कर दिये

निकला जो दूध उनसे मैने लौटे भर लिए


Bister Ke Saath Saath Bhabhi Ko Bhi Karta Hoon Garam Main

Bhabhi Karti Hai Sharam Nahi Karta Hoon Sharam Main

बिस्तर के साथ साथ भाभी को भी करता हूँ गरम मैं

भाभी करती है शर्म नहीं करता हूँ शर्म मैं

Gali Wali Nonvej Gandi Shayari 

Din Kya Dikhaye Dekho Mujhe Bhagwan Ne

Bin Kapdon Ke Nahayi Aaj Bhabhi Mere Samne 

दिन क्या दिखाए देखो मुझे भगवान ने

बिन कपड़ो के नहायी आज भाभी मेरे सामने


 Uske saath uski 2 Saheliyan bhi Aayi Thi

Baari Baari Se Maine Teeno Ki Bajayi Thi

उसके साथ उसकी दो सहेलियाँ भी आयी थी

बारी बारी से मैने तीनो की बजायी थी


Neeche Se Amrit Ki Barsaat Hoti Hai Jab Bhabhi Mere Saath Soti Hai

Cheekhe Nikal Jaati Hai Bhabhi Ki Haseen Itni Raat Hoti Hai

नीचे से अमृत की बरसात होती है जब भाभी मेरे साथ सोती है

चीखें निकल जाती है भाभी की हसीन बोहोत वो रात होती है

 Gandi Gaali Wali Hindi Shayari


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Maja Toh Use Bhi Aaya Magar Iss Beech Hua Uska Ek Ghata Hai

Kal Raat Se Wo Bin Kapdo Ke Hai Maine Uske Badan Ka Ek Ek Kapda Chaaku Se Kata Hai

मजा  तो उसे भी आया मगर इस बीच हुआ उसका एक घाटा है

कल रात से वो बिन कपड़ों के है मैंने उसके बदन का एक-एक कपड़ा चाकू से काटा है


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Saanp Ki Tarah Uske Badan Pe Lipat Gaya Main

Uski Jannat Ka Paani Pe Gat Gat Gaya Main

 सांप की तरह उसके बदन से लिपट गया मैं

 उसकी जन्नत का पानी पी घट घट गया मैं


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Phle Baahon Mein Jakad Liya Gala Sharam Ka Ghot Use
Phle Dabaye  Khoob dono Baad Uske Honth Chuse
  पहले बाहों में जकड लिया गला शर्म का घोट उसे  
फिर उतार के कपडे दबाए खूब दोनों बाद में उसके होंठ चूसे


Dirty Gandi Wali Gaali Shayari Hindi Mein


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Raat Bhar Marwane Ke Baad Bhi Bhujhi Nahi Pyaas Uski Thodi Thodi abhi Bhi Jal Rahi Thi

First Time Tha Ye Uska Dard Ke Maare Wi Chidhi Chidhi Chal Rahi Thi

 रात भर मरवाने के बाद भी बुझी नहीं प्यास उसकी थोड़ी थोड़ी अभी भी जल रही थी 

फर्स्ट टाइम था ये उसका दर्द के मारे वो छिदी छिदी चल रही थी


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Kal Raat Uske Saath Sona Bohot Mangha Pada Mujhe

Subah Hote Hi Dilana Use Naya Lahnga Pada Mujhe

कल रात उसके साथ सोना बहुत महंगा पड़ा मुझे

सुबह होते हि दिलाना उसे नया लहंगा पड़ा मुझे


Non Vej Shayri, Gandi Gaali Wali Shayari

Sardi Me in Bhi Garmi Ka Ehsaas Dilati Hai Wo

Kabhi Muh Main Leti Hai Kabhi Haathon Se Hilaati Hai 

सर्दी में भी गर्मी का एहसास दिलाती है वो

कभी मुँह में लेती है कभी हाथों से हिलाती है वो


Latest Gaali Waali Dirty Hindi Shayari 2020


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Taare Gin Gin Kar Bhi Apni Raat Gujarti Hai Wo 

Jab Koi Nahi Milta Toh Lekar Bengan

 Khud Ki Khud Hi Marti Hai Wo

तारे गिन गिन कर भी अपनी रात गुजारती है वो

जब कोई नहीं मिलता तो लेकर बैंगन 

खुद की खुद ही मारती है वो 

Dirty NonVej Shayari In Hindi 


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Raat Ko Uske Bedroom Mein Main Nahi Koi Aur Gaya Tha 

Mujhe Khiladi Neend ki Goli Main Toh Phle Hi So Gaya Tha

रात को उसके बेडरूम में मैं नहीं कोई और गया था 

मुझे खिला दी नींद की गोली मैं तो पहले ही सो गया था


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Meri Baahon Mein Aane Ke Baad Sharma Rahi Hai

Pakad Kar Uske Boobs Daba Diye Maine

 Badle Mein Wo Mere Honth Kha Rahi Hai Wo

मेरी बाहों में आने के बाद शर्म आ रही है 

दोनों बूब्स दबा दिए थे मैंने उसके 

बदले में वो मेरे होंठ खा रही है

Gandi Gaali Wali Shayari In Hindi


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Bohot Huyi Ladayi Thoda Romance Karte Hai

Utar De Apne Kapde Tu Bhi 

Saath Mein Hum Nanga Dance Karte Hai

बहुत हुई लड़ाई थोड़ा रोमांस करते हैं

 उतार दे अब अपने कपड़े तू भी 

साथ में हम दोनों अब नंगा डांस करते हैं


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Kareeb Apne Aane Do Na 

Apne Boobs Ko Dabane Do Na

Honth Hai Rasile Tere 

Bhookh Lagi Hai Khane Do Na

करीब अपने आने दो ना मुझे अपने बूब्स को दबाने दो ना 

होंठ है रसीले तेरे भूख लगी है खाने दो ना 

 

Nonvej Gali Wali Desi Hindi Shayari


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Kareeb Aa Jao Mere Ki Duriyan Aaj Saari khatam Karni Hai Mujhe

Baahon Mein Uthakar Bister Pe Le Jaunga Tumhe 

Tumse Ishq Ki Phli Aaj Jang Ladni Hai Mujhe

करीब आ जाओ मेरे कि दूरियां आज सारी खत्म करनी है मुझे

 अपनी बाहों में उठा कर बिस्तर पे ले जाऊँगा तुम्हें 

तुमसे इश्क की पहली आज जंग लड़नी है मुझे 


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Uski Chaddi Bhi Puri Paani Se Bheegne lagti Hai

Main Andar Toh Daal Deta Hoon Aur Wo Kuch Der Mein Hi Cheekhne Lagti Hai

उसकी चडी भी पूरी पानी से भीगने लगती है 

मैं अंदर तक डाल देता हूं पूरा और वो कुछ ही देर में चीखने लगती है 

 Desi Gaali Wali Shayari


Dirty Gaali Wali Shayari in Hindi | Non Veg Shayari

Ye Raaj Hai Par Fir Bhi Tumhe Batata Hoon Main

Ye Jo Bandar Mera Itna Sakth Khada Hota Hai Iski Dawa Khata Hoon Main

 ये राज है फिर भी तुम्हें बताता हूं मैं 

ये जो बंदर मेरा इतना सख्त खड़ा होता है इसकी दवा खाता हूं मैं


  Dalte Hai Andar Gufa Ras Se Bhar Leti Hai

Aate Hi Bengan Haath Mein Wo Tange Chaudi Kar Leti Hai

डलते ही अंदर गुफा रस से भर लेती है

आते ही बेंगन हाथ में वो टांगे चौड़ी कर लेती है

Gandi Gali Wali Shayari In Hindi

Sabji Banne Se Phle Andar Uski Jannat Ke Ghus Gaya

Ho Gaya Bengan Meeta Pura Uski Jannat Ka Ras Chus Gaya

सब्जी बनने से पहले अंदर उसकी जन्नत के घुस गया

हो गया बेंगन मीठा पूरा उसकी जन्नत का रस चूस गया


Sukha Nahi Abhi Bhi Gila Gila Sa Hai

Peekar Ras Uski Jannat Ka Bengan Khila Khila Sa Hai

सूखा नहीं अभी भी गीला गीला सा है

पीकर रस उसकी जन्नत का बेंगन खिला खिला सा है


Roj Raat Mein Bengan Ko Apni Jannat Mein Wo Bharat Hai

Kare Bengan Se Pyaar Wo Bengan Ki Sabji Se Kare Nafrat Hai

रोज रात में बेंगन को अपनी जन्नत में वो भरत है

करें बेंगन से प्यार वो सब्जी से बेंगन की करें नफ़रत है

Hindi Gali Waali Shayari

Pyaas Kunwari Us Chori Ki Bengan Ne Hi Bhujhayi Hai

Phir Bhi Kaat Kaat Kar Ys Bengan Ko Sabji Usne Banayi Hai

प्यास कुंवारी उस छोरी की बेंगन ने ही बुझाई थी

फिर भी काट काट कर उस बेंगन को सब्जी उसने बनायीं थी


Hokar Nangi Phir Wo Ulti Bistar Pe Let Gayi

Lekar Mota Bengan Wo Apni Taangon Ke Beech Waale Gate Gayi

होकर नंगी फिर वो उलटी बिस्तर पे अपने लेट गई

लेकर मोटा बेंगन वो अपनी टांगो के बीच वाले गेट गई


Kafi Der Tak Daal Neeche Wo Phir Daale Upar

Hai Bengan Bade Kaam Ka Bengan Ki Power Supar

काफी देर तक डाल नीचे वो फिर डाले ऊपर है

कहती है है बेंगन बड़े काम का बेंगन की पावर सुपर है

Gandi Gali Wali Shayari messages

Neeche Ekk Baar Dala Tha Ab Ab Roj Kaam Aata Hai

Sote Huye Bhi Jubaan Par Uski Bengan Naam Aata Hai

नीचे एक बार डाला था अब रोज काम आता है

सोते हुए भी जुबान पर उसकी नाम बेंगन का आता है


Hai Bade Raseele Abhi Abhi Maine Jaane Hai

Sab Kuch Chod Kar Ab Honth Tere Khaane Hai

है बड़े रसीले अभी अभी मैंने जाने है

सब कुछ छोड़ कर मुझे अब होंठ तेरे खाने है


Ye Chota Bandar Mera Aaj Kal Mauj Masti Mein Rehta Hai

Din Raat Uski Tango Ki Beech Ki Basti Mein Rehta Hai

ये छोटा बन्दर मेरा आज कल मौज मस्ती में रहता है

दिन रात उसकी टांगो की बीच की बस्ती में रहता है

Uski Chatne Mein Jeebh Se Chatne Mein 

maja Jitna Aata Hai Akele Utna Kahan Aata Hai Sang Gairon Ke Bantne Mein

 उसकी चाटने में जीभ से चाटने में

मजा जितना आता है अकेले उतना कहाँ आता है संग गैरों के बाँटने में


Dab Daba Ke Haatho Se Kar Check Liye Maine

Rasgule Dono Bhabhi Ke Kal Dekh Liye Maine

दबा दबा के हाथों से कर चेक लिए मैने

रसगुले दोनो भाभी के कल देख लिए मैने

गली वाली शायरी

Do Bol Bol Ke Pyaar Ke 

Bra Penty Utaar Ke 

Maine Khoob Chati usKi

Makhan Malayi Maar Ke

दो बोल बोल के प्यार के

बरा पैंटी उतार के

मैने खूब चाटी उसकी

माखन मलाई मार के


Biwi Ke Baad Saali Thi 

Apne l@nd Se Chuutt Jiski Maine Paali Thi

बीवी के बाद साली थी

अपने लंद से चुत जिसकी मैने पाली थी


Thodi Danto Se Kaati Thi

Usne Chuutt Meri Chati Thi

Jab Pyaas Bhujhi Nahi Meri

Usne Apne Yaaro Ke Sang Banti Thi

थोड़ी दांतो से काटी थी

उसने चुत मेरी चाटी थी

जब प्यास बुझी नहीं मेरी

उसने अपने यारो के संग बाँटी थी


Meri Chuutt Ko Apne L@nd Se Seencha Karta Hai

Apni Saadi Bhi Main Nahi Utarti Wo Apne Haatho Se Khincha Karta Hai

 मेरी चुत्त को वो अपने लंद से सींचा करता है

अपनी साडी भी मे नहीं उतारती वो अपने हाथों से खींचा करता है


Kabhi Tang Chaudi Kar Ke Baithe Hai

Kabhi Bin Kapdo Ke Lete Hai

Kabhi Daale Ungle kabhi Daale Brngan

Apni Chuutt Ki Pyaas Aise Wo Mete Hai

Hindi Gali wali Shayari For Whatsapp

Jeebh Laga Ke jab Jab Usne Chuutt Meri Enthi Thi

Puri Garam Ho Gayi Main Paani Se Bheeg Gayi Meri Panty Thi

जीभ लगा के जब जब उसने चुत्त मेरी एंठी थी

पुरी गरम हो गयी मे पानी से भीग गयी मेरी पेंटी थी


Jab Tak Tu Na Maare Meri Neend Bhi Na Aati Mujhe

Chuutt Meri Cheekh Cheekh Ke Baar Baar Bulati Tujhe

जब तक तु ना मारे मेरी नींद भी ना आती मुझे

चुत मेरी चीख चीख के बार बार बुलाती मुझे


Chuutt Meri Hai Femous Bohot Jannat Ke Naam Se

Ladke  Daba Daba Ke Khele Mere Dono Aam Se

चुत्त मेरी है फेमस बोहोत जन्नत के नाम से

लड़के दबा दबा के खेले है मेरे दोनो आम से


Ladko Ne Apne L@nd Se Hum Ladkiyon Ko Pel Ke

Bohot Jyada Bhaav Badha Diye Sarso Ke Teil Ke 

लड़को ने अपने लंद से हम लड़कियों को पेल के

बोहोत ज्यादा भाव बढ़ा दिये सरसों के तेल के


Mujhe Bin Kapdo Ke Dekh Jab Khada Uska Hota Hai

Bilkul Lohe ki Road Jaisa Tite 8 Inch Tak bada Uska Hota Hai

मुझे बिन कपड़ो के देख जब खड़ा उसका होता है

बिल्कुल लोहे की रोड जैसा टाइट आठ इंच तक बमुझे

सका होता है


Best Gali Wali Shayari For Instagram

Uski Meethi Meethi Baato Mein Aa Gayi Thi

Karke Ghaghra Uncha Use Apni Chuutt Dikha Gayi Thi

उसकी मीठी मीठी बातों में आ गयी थी में

करके घाघरा ऊंचा उसे अपनी चुत दिखा गयी थी में


Wo Banake Ghodi Mujhe Jhatke Maare Jor Se

Sara Mohalla Jag Jaaye Meri Cheekh Ke Shor Se

वो बनाके घौड़ी मुझे झटके मारे जोर से

सारा मोहल्ला जाग जाए मेरी चीखो के शोर से


Mujhe Samajh Ke Ghodi Wo Khud Ban Jata Hai Ghoda

Isi Bahane Chuutt Me in Meri Wo Apna Thus Deta Hai Laud@

मुझे बनाके घौड़ी वो खुद बन जाता है घौड़ा

इसी बहाने चुत में मेरी वो अपना ठूस देता है लौड़ा


Malayi Daar Rabadi Barsati Meri Chuutt Hai

Khane Ke Liye Ladko Ko Tarsati Meri Chuutt Hai

मलाई दार रबड़ी बरसाती मेरी चुत है

खाने के लिए लड़को को तरसाती मेरी चुत है


Uski Chuutt har Pal Puri Paani Se Bhari Rehti Hai

Wo Taiyaar Har Dam Mujhse Marwane Ke Liye khadi Rehti Hai

Utaar Toh Main Deta Hoon Kapde Pahnne Mein Use Alas Aata Hai

Wo Bin Kapdo Ke Isiliye Nangi Din Bhar Bister Pe Padi Rehti Hai

उसकी चुत हर पाल पिरी पानी से भरी रहती है

वो तैयार हर दम मुझसे मरवाने के लिए खड़ी रहती है

उतार तो मैन देता हूँ मगर कपड़े पहनने में उसे आलस आता है

वो बिन कपड़ो के इसीलिए नंगी दिन भर बिस्तर पे पड़ी रहती है

Gali Waali Shayari Photo

Pahle The Chote Chote Ab Aam Mere Sareaam Ho Gaye

Line Iss Qadar Lagne Lagi Ladko Ki Raste Ghar Ke Bhi Mere Jaam Ho Gaye

पहले थे छोटे छोटे अब आम मेरे सरेआम हो गये

लाइन इस क़दर लगने लगी है लड़को की कि रास्ते मेरे खुद के घर के जाम हो गये

aadhi Raat Ko Mujhe Pela Gaya

Meri Chuutt Mein Uska Kela Gaya

Lekar Aayi Thi Main Use

Wapis Wo Akela Gaya

आधी रात को मुझे पेला गया

मेरी चुत में उसका केला गया

लेकर आयी थी मै उसे

वापिस घर वो अकेला गया


Bhale Hi Marwayi Hogi Maine Bohoton Se Magar Seal Toh Meri Tumne Todi Thi

Mujhe Aaj Bhi Yaad Hai Wo Lohe Ki Road Jaisa Tumhar L@nd Jisne Meri Chuutt Mein Rabadi Se Bhari Pichkari Chodi Thi

भले हि मरवाई होगी मैने बोहोतो से मगर सील तो मेरी तुमने हि तोड़ी थी

मुझे आज भी याद है वो लोहे की रोड जैसा तुम्हारा लंद जिसने मेरी चुत में राबड़ी से भरी पिचकारी छोड़ी थ

अंतिम लाइन्स फॉर gali wali shayari -  फ्रेंड्स, आपको हमारी ये नॉनवेज शायरी अच्छी लगी हो तो शारे जरूर करे ।

है ना पूरी मजेदार हमारी ये Dirty Gaali Waali Shayari

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ

Do Not Comment Any spam link in the comment box